Monday, October 5, 2020

Digital Visiting Card डिजिटल बिजनेस कार्ड

समय के बदलाव बहुत ही जरूरी है, अन्यथा समय की रफ्तार अपने लहरों से हमें उस ओर धकेल देती हैं जहाँ से हम दूसरों पर निर्भर रहना ही मुनासिव समझते हैं। चाहे कोई भी कार्य हो या दुनियाँ की कोई भी डिजिटल तकनीकी (Digital Technology) हो हर व्यक्ति के लिए एक जैसी ही होती है, बस फर्क होता है तो सिर्फ और सिर्फ हमारे मन और मस्तिष्क के समझने का। अक्सर हममें से अधिकांशतः कुछ नया सीखने से पहले अपने मन एवं मस्तिष्क में कुछ ऐंसी धारणाएं बना लेते हैं कि उन्हें हर तकनीकी भारी सी लगने लगती है या फिर उनके मन मस्तिष्क में शिक्षा या तकनीकी अज्ञानता का ब्लॉकेज आ जाता है। जबकि ऐंसा बिल्कुल नही है। इंसान चाहे तो कुछ भी तकनीकी आसानी से सीख सकता है वो भी बिना तकनीकी ज्ञान के। जैंसे हम सभी लोग मोबाईल ऑपरेट करना सीखें हैं। इससे भी अच्छा उदाहरण छोटे बच्चों का ले सकते हैं वो कितनी आसानी से किसी भी तरह के मोबाईल को यूज कर लेते हैं। हम बात कर रहे थे डिजिटल विजिटिंग कार्ड (Digital Visiting Card ) या Digital actionable and clickable digital Business card. यह आधिनिकता का अहसास भी करा देता है साथ ही हमारा ई मेल, कॉन्टेक्ट नम्बर, वेब एड्र्स, व्हाट्सएप नंबर, टेलीग्राम लिंक, फेसबुक लिंक, इंस्टाग्राम लिंक, ट्विटर लिंक ( E mail, Contect number, website address, whatsapp number, telegram, facebook, instagram, twitter,( जितनी चाहे सारी डिटेल्स एक छोटे से फॉर्मेट में दे सकते हैं, यह सब इतना आसान है कि आप 15 मिनट में सीख सकते हैं। हाँ कई लोग इसकी सर्विस भी देते हैं मगर खुद के नॉलेज हेतु अच्छा होगा कि हम खुद सीखें। अन्यथा दूसरों पर निर्भर रहना पड़ता है। मैंने खुद इसे ट्राई किया और बना दिया। याद रहे मैं भी आप सभी की तरह कोई कम्प्यूटर के क्षेत्र का ज्ञान नही रखता हूँ और न ही कोई इंजीनियरिंग की डिग्री रखता हूँ। देहात के उन स्कूलों से पढ़ कर निकला हूँ जहाँ हिंदी सब्जेक्ट तक का अध्यापक नही होता था, बाकी इंग्लिश, मैथ एवं साइंस आदि तो बहुत दूर की बाते हैं। मैं आपको ये सब इसलिए बता रहा हूँ कि तकनीकी वाला बोझ आपके मन मस्तिष्क से हट जायेगा और आप का रुझान भी टेक्नोलॉजी की ओर बढ़ने लगेगा। इससे आपको मानसिक एवं शाररिक रूप से बहुत से फायदे होंगे, जब भी आप किसी क्रेटिविटी वाले सब्जेक्ट पर वर्क करते हैं तो मानसिक तनाव दूर हो जाता है मन अपनी क्रेटिविटी को लेकर प्रसन्न रहता है कोई थकावट महसूस नही होती, वी पी शुगर कंट्रोल रहता है।  मेरा पहला विजिटिंग कार्ड का जेपीजी फॉर्मेट ये है आपका भी ऐंसा हो सकता है। डिजाईनिंग आप अपनी पसंद के अनुसार कर सकते हैं। 


डिजिटल विजिटिंग कार्ड की जानकारी के लिए आप यहाँ क्लिक करेें। 

ऊपर वाले लिंक पर आपको डिजिटल विजिटिंग कार्ड कैंसे बनाना है पूरी जानकारी मिल जायेगी। सीखने में यह बहुत सरल है। इस तरह ही डिजिटल प्लेटफॉम की हर बारीकियों को आप तक पहुंचाता रहूँगा बाद आपका स्नेह मिलता रहे।  


Saturday, October 3, 2020

ढुंगा (Dunga)

 ~~~ ढुंगा ~~~

ढुंगा उठ्यां भी छन 

ढुंगा छुप्याँ भी छन 

ढुंगा फर्कणा भी छन 

ढुंगा सर्कणा भी छन

क्या बोन यूँ ढुंगों कु

ढुंगा ढुंगा भी नि छन! 

देखा टिडागी पौंडीं हफार 

निर्भाग्यों कु बण्युँ व्यापार

भौ कुई देंदु नि यूँ तैं कभी 

छौंदी कुड्यों बण्याँ खंद्वार! 

 ढुंगा उठ्यां भी छन 

ढुंगा छुप्याँ भी छन ......! 

टकराणा छिन आफुमा 

कच्चाकी पौंडीं देहगाथ 

मुछालौं सी सुलग्याँ छन 

कैंमा लगौंण छुयीं बाथ!

ढुंगा उठ्यां भी छन 

ढुंगा छुप्याँ भी छन .....!

समझणा भी छन 

ढुंगा ढुंगा ही छन

मुखुड़ि घसिं माटन्

माटासी यी खुश छन! @- राजेन्द्र सिंह कुँवर 'फरियाद'








Saturday, September 5, 2020

स्वरोजगार आपके दर पर

साउथ कोरिया सरकार का एक उपक्रम अपने 11 सालों के सफर एवं 14 देशों में अपनी मजबूत पकड़ बनाने के बाद अपने कदम भारत की ओर बढ़ा चुका है। इस कंपनी के मर्केटिंग हब ने पिछले तीन सालों से देश की सम्पूर्ण भौगोलिक प्रस्थितियों का बारीकी से निरीक्षण करने के बाद भारत मे प्रिलॉंचिंग प्रोग्राम शुरू किया था इसकी पकड़ मजबूती से बढ़ती जा रही है। ईकॉमर्स के लिए बेहतरीन स्वरूप ने नेटवर्किंग के रूप में पाने कदमों की रफ्तार बहुत तेजी से बढ़ाने का रिकॉर्ड प्राप्त किया है इस बात का अंदाजा आप खुद इस बात से लगा सकते हैं कि मात्र 11 सालों की समय सीमा के बावजूद भी विश्व के नेटवर्किंग स्थल पर खुद को 11वें पायदान पर ला कर खड़ा कर दिया। और यह स्थिति तब की है जब भारत जैंसे बड़े देश मे इसके कदम नही पड़े थे। नेटवर्किंग मार्केट के विशेषज्ञों का मानना है कि भारत मे शुरआत होने के 2 से 5 सालों के अन्दर यह इंडस्ट्रीज विश्व के प्रथम पायदान पर अपना नाम अंकित करेगी। भारत मे यह इंडस्ट्रीज अपने मैन्युफैक्चरिंग एवं रिसर्च डेवलोपमेन्ट प्रॉसेस भी करेगी। यानी हमारे देश के युवाओं को स्वरोजगार तो प्रदान करेगी ही साथ ही साथ हमारे देश के लॉकल उत्पादों को विश्व बाजार में एक बड़े ब्रांड के साथ उतारेगी। कंपनी एवं उसके वर्किंग प्रॉसेस पर लिखने के लिए बहुत कुछ है मगर इससे आपको केवल खुशी मिलेगी यदि आप वास्तव में खुद को स्वरोजगार की राह पर ले जाना चाहाते हैं तो अपने कदमों को रफ्तार दीजिए। सोचने से या सुनने से कोई स्वरोजगार नही कर पाता। यदि वास्तव में आप इस प्रॉसेस से जुड़ने की इच्छा रखते हैं तो संपर्क कर सकते हैं 9818583935। 

जुड़ने के लिए कोई इन्वेस्टमेंट नही है न ही कोई सेल्स करनी है और न ही कोई परचेजिंग का टारगेट है। आप फ्री माईंड से कंपनी के प्रॉसेस को फॉलो कर सकते हैं।

शैक्षिक योग्यता के प्रमाणपत्र की जरूरत नही है साथ ही आपकी उम्र 18 साल पूरी होनी चाहिए। 




Tuesday, August 25, 2020

ई कॉमर्स एक कैरियर बन रहा है।

हमारे देश में आजकल ई कॉमर्स का काफी बोलबाला है इस को गति देने साउथ कोरिया की एक ई कॉमर्स कंपनी देश मे अपने पाँव पसार रही है। कंपनी ने ईकॉमर्स और मल्टीलेबल मर्केटिंग को एक गठजोड़ के साथ प्रस्तुत करने का अद्भुत प्रयत्न किया है। कंपनी का यह प्लेटफॉर्म अपने आप में हमारे भारत देश के लिए अनोखा है। क्योंकि यहाँ पर जनसंख्या का घनत्व ज्यादा है, बेरोजगारी अपने चरम पर है इसके साथ साथ ई कॉमर्स एवं अनेकों मल्टीलेवल कंपनियाँ अपने आपको विस्तार दे रही हैं। मगर एटोमी एक मात्र ऐंसी कंपनी भारत में उतारने जा रही है जो मल्टीलेवल एवं ईकॉमर्स दोनों से जुड़े लोगों को अपनी ओर आकर्षित कर रही है। कंपनी ने बड़ी खूबशूरती से अपने सदस्यों के लिए इनकम प्लान डेवलॉप किया है। प्लान भी ऐंसा की आपको कंपनी से जुड़ने के लिए किसी भी प्रकार का शुल्क नही देना होगा। अपने उत्पाद की गुणवत्ता को कंपनी हर स्तर पर शतप्रतिशत उत्तम रखने का दावा भी करती है। कंपनी अपने बेहतरीन मैन्युफैक्चरिंग प्रॉसेस एवं रिसर्च डेवलॉपमेन्ट को अपना सबसे ताकतबर बैकबोन मानती है। बहुत कम समय मे कंपनी ने एक देश से होकर विश्व के 14 देशों में अपनी गुणवत्ता का लोहा मनवा चुकी है। जहाँ जहाँ कंपनी अभी काम कर रही हैं वहाँ पर जनसंख्या का घनत्व भारत जैंसे जनसंख्या घनत्व वाले देश से बहुत कम है, फिर भी कंपनी साल दर साल इस इंडस्ट्रीज में अपने रिकार्ड को बेहतर कर रही है। कहा तो ये भी जा रहा है कि भारत मे शुरू होने के दो से पाँच सालों के अन्दर कंपनी इस इंडस्ट्रीज में सबसे अच्छा रिकार्ड बना सकती है। खैर ये सब भविष्य की बातें हैं फिलहाल हमें अपना वर्तमान संभालना है। यदि आपको लगता है आप भी बिना इन्वेस्टमेंट के कंपनी के कदमों के साथ अपने कदम भी बढ़ाना चाहाते हैं तो आपके लिए यह एक अच्छा मौका हो सकता है। यह जॉब एवं व्यवसाय के बीच की कड़ी है। कंपनी से जुड़ने के लिए कंपनी आपको आपकी शैक्षिक योग्यता नही पूछेगी, कंपनी आपका धर्म नही पूछेगी, कंपनी आपका अनुभव नाही पूछेगी, साथ ही आपको जहाँ जहाँ कंपनी के ऑफिसेस हैं वहाँ वहाँ व्यवसाय के लिए द्वार खोल के रख देगी। अधिक जानकारी के लिए आप मुझे भी संपर्क कर सकते हैं। हो सकता है आपका एक डिसिजन आपको या आपके बच्चों को आपके सपनों की मंजिल पर लेकर जा सकता है। मेरा संपर्क सूत्र 9818583935










Thursday, July 16, 2020

उज्ज्वल भविष्य की संभवनाएं

एटोमी क्या आपके बच्चों के भविष्य को बेहतर बना सकती है। जानिए एटोमी क्यों करनी चाहिए और एटोमी का उद्देश्य क्या है ? क्या बिना इन्वेस्टमेंट के सिर्फ और सिर्फ मानवीय रिश्तों को जोड़ कर आगे बढ़ने से अन्तर्राष्टीय व्यवसाय की रहस्यमय दुनियाँ को जाना जा सकता है ? यदि अपनी पूरी जिंदगी में सिर्फ और सिर्फ हम अपने मित्रों एवं रिश्तेदारों को साथलेकर आगे बढ़ते हैं ये हमारे साथ जुड़ने वाले भी यदि इसी तरह आगे बढ़ने की सोच रखते हैं तो विश्वपटल के साथ व्यवसाय एवं जीवन के मधुर अनुभवों के पलों से भावविभोर होने से कोई नही रोक सकता। बस आपको सिर्फ और सिर्फ अपना एक कदम आगे बढ़ाना है। यदि इस विचार पर हम गहनता से विमर्श करें तो मेक इन इंडिया के सपनों को हम हकीकत में बदल सकते हैं। यह विश्व की एकमात्र इंडस्ट्रीज है जहाँ पर न तो शिक्षा के प्रमाण पत्रों के आधार को आधार माना जाता है और न ही आरक्षण को बरियात दी जाती है। यहाँ पर हम एक परिवार के रूप में आगे बढ़ते हैं। समान शिक्षा एवं समान कमाने का अधिकार भी हर किसी को मिलता है। समान पद पर पहुँचने के बावजूद भी आपस मे कोई टांग खिंचाई की भावना उत्पन्न नही होती। यहाँ पर गृहणी, विद्यार्थी, जॉब या व्यवसायी के लिए पहली सीढ़ी से ही आगे बढ़ने की परंपरा है। यदि एथिकल कंपनी की बात की जाय तो आपके ऊपर किसी नये व्यक्ति को जिम्मेदारी नही दी जाती या स्पष्ट शब्दों में कहा जाय तो किसी नये व्यक्ति को आपके ऊपर थोपा नही जाता है। सभी के लिए पहली सीढ़ी दर सीढ़ी चढ़ना अनिवार्य है। क्या आप तैयार हैं यदि हां तो अधिक जानकारी के लिए संपर्क करें 9818583935



Wednesday, July 1, 2020

हलवा एक पारंपरिक प्रसाद

उत्तरांखण्ड में कोई भी त्यौहार हो या शादी समारोह हलवा वहाँ का प्रमुख है या यूँ कह सकते हैं ये शुभ कार्यों के लिए एक प्रसाद है। आजकल उत्तरांखण्ड में लोग धान की रोपायियों में व्यस्त हैं। खेतों में काम करने वालों के लिए रोटी सब्जी के साथ हलवा जरूर बनता हैं पहले ये पारम्परिक तौर पर गेंहू के आटे का बनता था मगर समय के चक्र ने उससे भी लील लिया है।


Sunday, May 24, 2020

मार्केट में जॉब एवं व्यवसाय की स्थिति का आंकलन

इस लेख को ऊपर से नीचे तक पूरा पढ़े दिमाग की बत्ती जल सकती है।
अगर आप नेटवर्कमार्केटिंग में हो
तो अब लिस्ट बनाने का तरीका
आपके लिए लेकर आया हूँ, अब मत कहना के लिस्ट कैसे बनाऊँ? मैं तो किसीको जानता नही हूँ?

कुछ काम ऐसे है जो कि कोरोना की वजह से directly और indirectly बहुत ज्यादा disturb हुए है।
1. हलवाई
2. केटरिंग वाले
3. बैंड वाले, Dj वाले
4. stage & flower decoration
5. मैरिज हॉल
6. tent वाले
7. water camper वाले
8. entertainment like stage show से जुड़े artist
9. light decoration
10. लेडीज & जेंट्स कपड़े shop
11. ladies makeup /bridal make up womens
12. किराने वाले जिनसे शादियों पार्टियों का माल जाता है
13. auto टैक्सी, प्राइवेट बस वाले
14. सिनेमाहॉल और सिटीमोल्स से जुड़े लोग
15. टूरिस्ट और टूरिज़म से जुड़े लोग, टैक्सी चालक
16. होटल, ढाबे, रेस्टोरेंट
17. फ़ास्टफ़ूड से जुड़े हुए ठेले और दुकान
18. प्राइवेट ट्यूशन पढ़ाने वाले teacher
19. ऑटोमोबाइल सेक्टर और जुड़े लोग
20. रेलवे स्टेशन से जुड़े दुकानदार
22. cellphone industry
24. पार्लर और सलून
25. बिल्डिंग मैटेरियल,और मैन्यूफैक्चरिंग से जुड़े लोग
26. जिन लोगो की जॉब जा चुकी है या जाने वाली है
27. जिन लोगो को बड़े बड़े शहरों से काम छोड़ कर वापस घर आना पड़ा है
28. कोचिंग इंस्टिट्यूट चलाने वाले लोग
29. नॉकरी की तैयारी करने वाले(govt ने कहा है अब 1साल जगह नही निकलेंगी)
30. डिफेन्स जॉब की तैयारी करने वाले(सेना ने 9000 टेक्निकल पद समाप्त कर दिए)
31. insurance, RD, FD सेक्टर से जुड़े लोग
32. airlines or airport से जुड़े लोग
33. ऑनलाइन से जुड़ी food सर्विस zomato type
34. धार्मिक अनुष्ठान करने वाले पंडित जी
35. बड़े मंदिरों और मस्जिदों के बाहर दुकान लगाने वाले लोग
36. चाय की टपरी वाले
37. बड़े शहरों में जिनका काम किरायेदार रखने से ही चलता है
38. laundry और press वाले
39. टेलर लेडीज & जेंट्स
40. इंसान के मनोरंजन से जुड़े जादूगर, मेले वाले, फ़िल्म, नाटक इंडस्ट्री मे काम करने वाले लाखों लोग
41. छोटी मोटी बहुत सारी network marketing से जुड़े लोग
42. ऑटो पार्ट्स रिपेयर मिस्त्री
43. विदेश यात्राओं से जुड़ी कंपनियां और एजेंट्स
44. विदेशों से वापस भारत लौटे हुए लोग
45. court मे काम करने वाले वकील और अन्य लोग
46. हर सेक्टर के लाखों सेल्समैन
47. कई तरह के दुकानदार

ऐसे ओर भी कई profession है जोकि 50% से100% तक हिल गए है कई प्रोफेशन तो खत्म हो गए है और ये हाल कम से कम आने वाले 6महीने तो रहेगा ही।

कौन कहता है कि मेरे पास लिस्ट नही है अब ये सब आपके प्रॉस्पेक्ट है अब आप इन लोगो की भी लिस्ट तैयार कर सकते है और वादा है मेरा आपको इनमें से 80% लोग ध्यान से सुनेंगे।

इन्हें समझा सकते है mlm की ताकत और या तो 6महीने घर बैठे या 6महीने काम करके इस ई कॉमर्स नेटवर्क मार्केटिंग बिज़नेस को 2nd option के रूप मे खड़ा कर ले।

जाते जाते साथियों
अब दुनिया 2 हिस्सों में बंट जाएगी

कोरोना से पहले की दुनिया
कोरोना के बाद कि दुनिया

तो
कोरोना के बाद कि दुनिया
में अब लिस्ट इतनी बड़ी बन सकती है जिसका हिसाब नही लगाया जा सकता

अगर आप अपने किसीकी मदत करना चाहते हो दिलसे

तो ये पोस्ट हर नेटवर्क मार्केटिंग करनेवालो तक पहुंचाओ

क्योंकि
अब
डायरेक्ट सेल्लिंग ही वो ज़रिया होगा
जिससे हम
करोडों लोंगो की ज़िंदगी मे एक छोटा बदलाव ला सकते है
और हिंदुस्तान को
सही मायनों में
आत्मनिर्भर बना सकते है

एक ज़िम्मेदार नागरिक बनकर आओ इस देश के लोंगो को एक नई राह दिखाते हैं।

अधिक जानकारी हेतु संपर्क करें।



Friday, May 22, 2020

स्वदेशी एवं विदेशी उत्पाद एवं कंपनियाँ

आजकल मार्केट में कुछ कंपनियों के लीडर स्वदेशी की बातों को ज्यादा तब्बजो दे रहे हैं। उन्हें स्वदेशी पर यह वीडियो जरूर देखनी चाहिए। उनकी स्वदेशी एवं विदेशी वाली विचारधार को यह वीडियो दूर करेगा।

अब बात करते है एटोमी पूरे विश्व की एकमात्र कंपनी है जिसने ई कॉमर्स और मल्टीलेवल मर्केटिंग के दो अलग अलग रास्तों को एक साथ जोड़ दिया है और इस पद्धति पर पीछे दस सालों से विश्व के 14 देशों में सफलतापूर्वक वर्किंग कर रही है। भारत में कई लोगों अपने तरह तरह के भावनात्मक विचारों से इस बारे में गहनता से विमर्श कर रहे हैं। कुछ बड़ी मल्टीलेवल मर्केटिंग के लीडर चुपचाप इस से जुड़ भी रहे हैं मगर अपनी नीचे की टीम को इस बात का एहसास नही होने दे रहे हैं। जहाँ तक मार्किट का सर्वे है करीब करीब अभी तक भारत मे चल रही सभी मल्टीलेवल मर्केटिंग कंपनियों के 20%  लीडरों ने चुपचाप जॉइन कर लिया और करीबन 100 से 5000 तक कि टीमें भी बना चुके हैं। इसलिए आज सभी नेटवर्करों के लीडरों को बताना चाहता हूँ आप आज ही जॉन कीजिए। यहां पर कोई फीस नही है रजिस्ट्रेशन की। आपको यहाँ कोई पैकेज नही लेना पड़ेगा। आपको यहाँ कुछ बेचना नही है। आपको रिपरचेजिंग के लिए कोई नही बोलेगा और सबसे अच्छी बात आप जो कर रहे हो करते रहो मगर यहाँ टीम डेवलॉप करते रहो।

यहाँ भी वो सारी सुविधाएँ हैं जो आप ले रहे हो यह किसी कारण वश ले नही पैये हो। आपको 5, 6 लेग नही संभले पड़ेंगे, आपको कोई टारगेट नही होगा। आपको हर महीने खुद के लेवल को मेंटेन नहीकरना पड़ेगा। यहाँ पर आपकी टीम का डेड होने का चांस ना के बराबर है। आपको अपनी अपलाईन की ओर टकटकी लगाये नही झांकना पड़ेगा। और जो सबसे महत्वपूर्ण है जितनी भी शिक्षा या ट्रेनिंग प्रोग्राम होंगे उनके लिए आप से कोई चार्ज नही लिया जायेगा। यहाँ तक कि किसी लीडर की पर्सनल मीटिंग के लिए भी कोई फीस नही ली जायेगी। आपके नजदीक कंपनी का एजुकेशन सेंटर होगा साथ ही डिजिटल के हर प्लेटफॉर्म की आपको जानकारी मिलती रहेगी। यदि आप भी अभी एटोमी को लेकर किसी संस्पेंस में हो तो संपर्क करें आपको पूर्ण रूप से एटोमी की हर जानकारी प्रदान की जायेगी।

नोट :- नेटवर्किंग मर्केटिंग में असफल होने वाले लीडरों को अब सोचने की जरूरत नही है। आईये साथ मिलकर कदम बढ़ाते है।

अधिक जानकारी हेतु संपर्क करें। संपर्क के लिए फोन या व्हाट्सएप दोनों रास्ते हैं। 9818583935

स्वदेशी एवं विदेशी का फर्क जानने के लिए यहाँ क्लिक करें 








Wednesday, May 20, 2020

एटोमी ई कॉमर्स प्लेटफ़ॉर्म Atomy E Commerce Platform

एटोमी हमारे देश में फिलहाल अपने प्रिलॉंचिंग स्टेज पर है। यह हमारे देश की अर्थव्यवस्था के लिए ही नही अपितु युवाओं के लिए एक ऐंसा महत्वपूर्ण कैरियर प्रदान करने वाला है जिसके बारे में कभी युवाओं ने विश्वास भी नही किया होगा। यह सिर्फ युवाओं के लिए ही नही बल्कि गृहणी महिलाओं, रिटायर व्यक्तियों, कॉलेज के छात्रों सभी के लिए अद्भुत प्लेटफॉर्म बनने वाला है विश्व के इतिहास में पहली ऐंसी कंपनी बन चुकी है जो कि ईकॉमर्स एवं मल्टीलेवल मर्केटिंग के जॉइंट सौजन्य से अपने आप मे विश्व विख्यात है। एटोमी (कोरियन सरकारी उपक्रम केरी एवं कोलमर ) केरी एवं कोलमर का एक डिस्टिब्यूशन हब है। फिलहाल ये 14 देशों में सफलता के साथ काम कर रहा है एटोमी से जुड़ने वाले को फ्री में एजुकेशन सेंटर हैं। एटोमी को जॉइन करने के लिए कोई फीस नही है और न ही कोई रिपर्चेज पैकेज। एटोमी में प्रजेंटेशन के लिए भी कोई चार्ज नही है जब अन्य डारेक्ट सेलिंग कम्पनियॉ अपने लीडर की इनकम मेंटेन करने के लिए कंपनी से जुड़ने वाले मेंबरों से 100 रुपये से लेकर 500 रुपये तक वसूलते हैं। लेकिन जैंसे ही एटोमी का नाम भारतीय शहरों की गलियों में गूँजना शुरू हुआ बड़ी बड़ी कंपनियों के लीडर यहाँ पर जुड़ने शुरू हो चुके हैं। कुछ वर्षों पहले हमारे देश मे मोबाईल फोन क्रांति आयी थी लेकिन कोरोना के निपटे ही एटोमी कि क्रांति आयेगी। आज हर हुआ एटोमी के बारे में जानने के लिए बेताव है। 30% अन्य कंपनियों के मेंबर अभी जुड़ चुके हैं। मित्रों एटोमी से जुड़ कर अनेकों फायदे आपको होने वाले हैं। उत्तम क्वालिटी उत्पाद तो मिलेगा ही साथ ही स्वरोजगार, डिजिटल मर्केटिंग की हर पहलू की जानकारी, ई कॉमर्स क्या होता है और ई कॉमर्स की ताकत क्या होती है। इसके अलावा आप को यह जानने को भी मिलेगा कि नेटवर्किंग की ताकत क्या है और नेटवर्किंग क्यों जरूरी है।  आईये जानते हैं कि एटोमी कब तक लॉन्च हो रही है। अधिक जानकारी आप मुझसे संपर्क कर सकते हैं।

एटोमी लॉन्चिंग की जानकारी के लिए निम्न लिंक पर क्लिक करें



Thursday, May 14, 2020

स्वरोजगार / ट्रेनिंग सेंटर

क्या आप एक स्टार्टअप की सोच रहे हैं? 
क्या आप ट्रेनिंग सेंटर चला सकते हैं ?
क्या आप जॉब, व्यवसाय या अन्य मल्टीलेवल कंपनियों से जुड़ के हताश है ?
क्या आप अनलिमिटेट लेवल ऑफ मर्केटिंग की जानकारी चाहाते हैं ? 
क्या आप एक ट्रेनर बना चाहाते हैं ? 
क्या आप बिना स्टोर या बिना ऑफिस के अपना स्वरोजगार स्थापित करना चाहाते हैं? 
क्या आप डिजिटल के इस युग में खुद को सम्मलित करना चाहाते हैं? 
क्या आप बिना इन्वेस्टमेंट के विश्व स्तर पर अपने घर बैठ कर अपना व्यवसाय खड़ा करना चाहाते हैं? 

मैं इस व्यवसाय से जुड़ चुका चुका हूँ आप जुड़ना चाहाते है या नही यह आप पर सुनिश्चित करता है। 

यदि आपके पास कुछ ऐंसा व्यवसाय है तो आप शुरू कीजिए क्योंकि आने वाले समय मे ई कॉमर्स और ई व्यवसाय ही सबसे ज्यादा चलेंगे। 

इन व्यवसायों से जुड़ने के लिए कोई इन्वेस्टमेंट की जरूरत नही होती। 
यदि आप एक बार कर भी लेते हैं तो आप पार्ट टाईम शुरू कर सकते हैं वो घर बैठकर।

इस व्यवसाय से जुड़ने के लिए लिए आपका कोई इंटरव्यू नही होता। 

इस व्यवसाय से जुड़ने के लिए आपको किसी की सोर्स नही खोजनी पड़ती। 

इस व्यवसाय से जुड़ने के लिए आपको अपनी शैक्षिक योग्यता का प्रमाण पत्र नही देना होता है।

पूरी दुनियाँ में यह ही एक मात्र व्यवसाय है जहाँ पर चार्टेट अकाउंटेंट, एक ऑफिस बॉय, एक व्यवसायी, एक  गृहणी, एक विद्यार्थी, एक मॉस्टर डिग्री धारी, अध्यापक आदि एक साथ सामान्य रुप से कार्य आगे बढ़ते हैं। यऐंसा यूनिक प्रोफ़ाईल यदि कही मिलता है तो सिर्फ और सिर्फ मल्टीलेवल मर्केटिंग में। यह जीवन का सबसे अच्छा इंस्टिट्यूट है। यदि आप दो या तीन साल भी बिना अच्छे पैंसे कमाये इस इंडस्ट्रीज से जुड़े रहते हैं तो दुनियाँ की किसी भी इंडस्ट्रीज में अच्छी इनकम लेवल पर काम कर सकते हैं।  

यदि कोई संदेश है या अपना संदेश दूर करना चाहाते हैं तो भी संपर्क कर सकते हैं। आपको पूर्ण रूप से बिना फीस के कन्सरटेंसी दी जायेगी। 

मेरा संपर्क सूत्र 9818583935

#व्यवसाय 
#स्वरोजगार 
#ट्रेनिंग_इंस्टिट्यूट






Wednesday, April 22, 2020

नेटवर्क क्या है ?

बहुत से लोग आज भी एक नेटवर्क को नही समझ पाते हैं। वास्तविक तौर पर चाहे वो पुराने तौर तरीक़े हों या आधुनिक वर्किंग स्टाईल यह सब एक नेटवर्किंग की क्षेणी में आता है।  हम लोग अक्सर जब ट्रेडिशनल मार्केट की बात करते हैं तो नेटवर्क को अनदेखा करते हैं या उस मार्केट की चतुराई के कारण किसी भी स्थिति में हमे नेटवर्क का आभास नही होता है। क्योंकि वहाँ पर हमारी नेटवर्किंग का एक स्थायी मूल्य का बोझ हमें कभी उस ओर सोचने नही देता। यह बोझ आम भाषा में सैलरी, मेहनताना, मजदूरी या कमीशन होता है जो लगभग फिक्स होता है। हमारा मनोवैज्ञानिक पहलू कभी भी इस स्थिति को समझने के लिए तैयार ही नही हुआ। जबकि डारेक्ट सेलिंग कंपनियों ने इस नेटवर्किंग के छुपे हुये पहलुओं को फ्रंट पर लाने की कोशशि की है। ये कंपनियां यहीं तक सीमित नही रही बल्कि उन्हेंने मार्केट में अद्भुत नियम स्थापित किये। उन्होंने हर व्यक्ति के लिए के लिए नेटवर्किंग के में बदले कोई फिक्स मूल्य नही बल्कि एक ऐंसा मूल्य रखा जिसको प्राप्त करने के लिए हर व्यक्ति को एक ही नजरिये से देखा जा सकता है। उन्हेंने बाजार के बढ़ते हुये कम्प्टीशन को, शिक्षा की भिन्नता को, जाति धर्म की स्थिति को, अमीरी गरीबी की रेखा को यहाँ तक कि जान पहिचान की ताकत को भी क्षीर्ण करने की भरपूर कोशिश की और करने में लगभग कामयाब भी हुई हैं। नेटवर्किंग आज एक ऐंसा रास्ता बन चुका है जिस पर हर किसी के लिए कदम रखने में बहुत आसानी होने लगी हैं। कुछ खामियाँ भी इस इंडस्ट्रीज की उभर के आयी हैं। जो कि सामान्य इंडस्ट्रीजों के मुकाबले फिर भी बहुत कम हैं। नेटवर्किंग हर व्यक्ति के अन्दर एक बेहतरीन नेतृत्व की क्षमता डेवलॉप करती है। इसलिए कहा भी जाता है कि आपका नेटवर्क ही आपकी नेट वर्थ है अर्थात यही आपकी सबसे अमूल्य संपत्ति है। आईये इस इंडस्ट्रीज को जानें।



Tuesday, April 21, 2020

ई कॉमर्स के साथ डारेक्ट मर्केटिंग का समावेश

कुछ प्रश्न जो अधिकतर लोगों को आगे बढ़ने से रोकते हैं। 

आखिर अंग्रेजी में ही क्यों हैं प्रोफेशनल कोर्स या पुस्तकें क्या आपने कभी इस बारे में सोच है ?

क्या सिर्फ और सिर्फ अंग्रेजी के जानकार अच्छे प्रोफेशनल होते हैं? 

क्या आप कमजोर अंग्रेजी के कारण आगे नही बढ़ पा रहे हैं? 

किसी किसी को ये प्रश्न प्रभावित करते हैं। यदि मैं कहूँ तो 85% देश की आबादी को आगे बढ़ने से ये प्रश्न रोक लेते हैं ( कुछ अपवादों को छोड़ दिया जाय तो)

आईये अब आपको हिंदी भी भारत ही नही बल्कि विश्व के किसी प्लेटफॉर्म पर ले कर जा सकती है। क्योंकि यह यह एक ऐंसा उपक्रम है जहाँ पर, भाषा, जाति-धर्म, या आर्थिक कमजोरी का कोई महत्व नही है हर हर उस कदम के साथ कदम मिला सकते हैं जो बुलंदियों को छूने की चाह रखता है। यदि आप हर तरह से सपोर्ट मिलेगा। आईये अपने कदम ई कॉमर्स प्लेटफ़ॉर्म की ओर बढ़ाइए। 

1. यह प्लेटफॉर्म हर महिला पुरुष को एक समान दृष्टिकोण से आगे बढ़ाने में मदद करता है। 

2. यह प्लेटफार्म अनुभवी एवं अनुभवहीन दोनों के लिए एक जैंसा ही होता है। 

3. इस प्लेटफार्म पर जाति-धर्म, गरीब-अमीर, भाषा और विचारधार के आधार पर किसी को भी महत्व नही दिया जाता है। मात्र निरंतर कार्य कुशलता ही एक मात्र रास्ता है जो सफल बना सकता है। 

4. घर की काम काजी महिला हो या किसी सरकारी उपक्रम की कोई बड़ी अधिकारी दोनों के लिए समान रास्ते हैं। 

5. आप चाहे किसी बड़े ब्रांड वाले स्कूल से पढ़े हों या गाँव के किसी चरमराती व्यवस्था वाले स्कूल से दोनों की वैल्यू इस रास्ते पर एक ही होती है और दोनों को सफल होने के लिए एक पैटर्न ही है। यहाँ पर शिक्षा के आधार पर कोई भेदभाव नही है। 

6. सबसे अच्छी बात इस अद्भुत प्लेटफॉर्म की ये है कि 20 साल की उम्र पार करने के बाद आप इस प्लेटफॉर्म से  जुड़ सकते हैं इसके लिए कोई इंटरव्यू नही है। और बहुत ही साधारण पद्धति से आप प्लेटफॉर्म की सीढियाँ चढ़ सकते हैं। 

जो व्यक्ति सरकारी या प्राइवेट जॉब के इंटरव्यू से थक चुके हैं, अपने बॉस या सहकर्मियों से परेशान है उनके लिए भी यह प्लेटफॉर्म एक महत्वपूर्ण रास्ता हो सकता है। 

और सबसे अच्छी बात यह है कि आप अपना कोई सपना यहाँ पर पूरा कर सकते हैं इसकी 99% संभावनाएँ हैं। किसी से कोई कम्प्टीशन नही रहता। आपको प्रमोशन या अपने मेहनताना बढ़ाने के लिए किसी भी प्रकार की सोर्स की जरूरत नही पड़ती। साथ ही सरकार की सभी गाईड लाईनों के अधीन यहाँ पर वर्क होता है। एक देश मे बढ़ती बेरोजगारी और अस्थिर फाइनेंस व्यवस्था को दूर करने का यह महत्पूर्ण प्लेटफॉर्म है। 

क्या आप भी इस तरह के अद्भुत प्लेटफ़ॉर्म पर अपना रोजगार तलाशने के लिए तैयार हैं। अधिक जानकारी के लिए संपर्क करें। 
राजेन्द्र सिंह कुँवर 'फरियादी' 9818583935


981853935



Friday, April 17, 2020

रिफरल मार्केटिंग Referral Marketing

समय के बदलाव के साथ साथ मार्केटिंग के तौर तरीके भी धीरे धीरे बदलने लगते हैं। अक्सर यह देखा गया है कि पुराने तौर तरीकों को एक नया रूप दे कर भी बाजार के उत्पादों की खरीदारी एवं बिक्री में को बडी तेजी के साथ प्रभावित किया जा सकता है। अधिकांशतः इसे डारेक्ट सेलिंग, चैन सिस्टम, मल्टीलेवल मार्केटिंग रिफरल मार्केटिंग ( Direct Selling, Chain System, Multilevel Marketing or Referral Marketing ) भी कहते हैं। सभी का कॉंसेप्ट लगभग मिलता जुलता होता है। इसमें सबसे ज्यादा भिन्नता पैंसे के वितरण को लेकर होती हैं अर्थात हर कंपनी पैंसे के वितरण के तरीकों को अनोखा बनाने की कोशिश करती हैं ताकि लोगों को ज्यादा से ज्यादा प्रभावित किया जा सकते। वैंसे तो हर व्यक्ति अपने रोजमर्रा के जीवन मे इस सारे सिस्टम में लिप्त रहता है लेकिन जब फाइनेंशियल रूप से उसको इस सिस्टम द्वारा मदद मिलती तब ही इसे मल्टीलेवल मार्केटिंग, चैन सिस्टम, डारेक्ट सेलिंग या रिफरल आदि नाम इस सिस्टम को उपयोग करने वालों के नाम के साथ जोड़ दिया जाता है। वैंसे इस सिस्टम पर विश्व की कई बड़ी मार्केटिंग एजेंसियाँ रिसर्च भी कर चुकी हैं और अपनी रिसर्च में यह भी सावित कर चुकी हैं कि सामान्यतः यह किसी भी साधारण व्यक्ति की इनकम को बडी तेजी से बढ़ाने में पूर्णतः सक्षम प्लेटफॉर्म है। लेकिन सामान्य वर्ग इस पर विश्वास नही कर पाता। विश्वास न करने के पीछे कई तकनीकी खामियां भी रही हैं। जैंसे उत्पाद की गुणवत्ता को बढ़ा चढ़ा कर बता दिया जाता है। उत्पाद बिक्री के बाद वाले मिलने वाला मेहनताने को वितरण करने के कुछ तरीके मार्केट को खलने लगते हैं और इससे भी इस पद्धति को लोग अच्छी नजरों से नही देखते हैं। लेकिन यह बिल्कुल सत्य है साथ ही रिसर्च के द्वारा प्रमाणित भी है कि यही प्लेटफॉर्म हैं जो कम समय मे कमानियों की सेल परचेज को प्रभावित करती हैं और यही वो सबसे अच्छे प्लेटफॉर्म हैं जहाँ से दुनियाँ का कोई भी साधारण व्यक्ति बड़ी से बड़ी अचीवमेंट आसानी से कर सकता है। इस इंडस्ट्रीज का सबसे अच्छा पहलू है है कि यहाँ पर किसी डिग्री या डिप्लोमा को वेल्यू नही दिया जाता है। सभी व्यक्तियों का इस इंडस्ट्रीज में प्रवेश का मापदंड एक सा है काम करने के तौर तरीके भी सामान्यतः एक जैंसे हैं। इस इंडस्ट्रीज की सबसे अनोखी बात यह है कि अभी तक यहाँ किसी भी सरकार या समाज के ठेकेदारों की नजर नही पड़ी। कहने का अर्थ है कि यह इंडस्ट्रीज आरक्षण फ्री हैं यहां पर आरक्षण किसी भी रूप में लागू नही हैं।

Saturday, April 11, 2020

कोरल ड्रा Coral Draw

आज का समय टेक्निकल का है। लोग अपनी जॉब बचने  या अपने पद को बढ़ाने में सोचने लगे चुके हैं। यदि वास्तविक तौर पर देखा जाय तो यदि आप तकनीकी स्तर पर कमजोर हैं तो आपकी अपनी वेल्यू बहुत कम है। यह डिजिटल के आने के बाद सभी को प्रतीत होने शुरू हो चुका है अधिकांश लोग ऑन लाईन एवं ऑफ लाईन तरह तरह के कोर्स जॉइन कर रहे हैं जिससे से अपने कैरियर को स्थितरता दी जा सके। यदि आप 10 से  25 हजार की रेंज में सैलरी पाते हैं तो आपको खुद के कैरियर को एक नया स्वरूप जरूर देना चाहिए। अन्यथा कोई नई चुनैती आपकी जॉब निगल सकती है। छोटे छोटे ये कोर्स कैरियर की स्थिरता को बनाये ही नही रखते हैं बल्कि आपको स्वरोजगार की ओर ले जाने की क्षमता भी भरपूर रूप से रखते हैं।और इसको आप बड़ी सहजता से अन्जाम दे सकते हो।  डिजिटल मार्केटिंग के की कई सारी संभावनाएँ आप सभी तक पहुंच ही रही हैं आज कैरियर के लिए जो अद्भुत कोर्स है उसे मैं आपके साथ शेयर कर रहा हूँ। वो कोर्स है कोरल ड्रा। कोरल ड्रा वाला कैरियर बहुत ही सम्मानित वाला कैरियर है। वैसे इस कोर्स को लोकल इंस्टीट्यूट से आप 7 से 10 हजार तक से शुरू कर सकते हैं मगर आज आपको मेरे एक मित्र के उडेमी कर पोर्टल से मात्र 400 सौ रुपये से सीख कर अपने कैरियर को आगे बढ़ा सकते हैं समय सीमा की कोई बंदगी नही है और एक बार खरीदने पर इस कोर्स को आप लाईफ टाईम के लिए एक्सेस कर सकते हो। यहाँ पर वीडियो सामग्री के साथ उन्होंने सरल भाषा मे समझ है। मित्र रिखिल नागपाल जी इंदौर में एक प्राइवेट कालेज में एक अच्छे फैकल्टी हैं उनका विषय ही फैशन डिजाइनिंग, डिजिटल मार्केटिंग है और लोगों को इन कैरियरों से जोड़ना उनका शौक है। उनका मानना है कि हर व्यक्ति अपने कैरियर को स्थायित्व दे। बहुत अच्छे सॉफ्ट स्किल मैनेजमेंट प्रोग्राम के साथ साथ इस तरह के कई कॅरियर प्रोग्रामों को समय समय वो देश के कई हिस्सों में करते रहते हैं आप भी इस उडेमी पोर्टल से आज ही उन से जुड़ सकते हैं। मुझे आशा ही नही बल्कि पूर्ण विश्वास की आप अपने कैरियर को एक अच्छी उड़ान देंगे। इस प्रोग्राम की फीस उन्होंने अपने तौर पर जीरो की हुई है मात्र पोर्टल के चार्जेज हैं उनका मुख्य मकसद लोगों को आत्मनिर्भर बनाना है। कोर्स की 400 रुपये फीस मात्र दो दिनों के लिए है क्योंकि पोर्टल इसके बाद फीस कद चार्ज बढ़ा देगा। आईये और आज ही निम्न लिंक से अपना कोर्स बुक करें। 

Thursday, April 9, 2020

नेटवर्क मार्केटिंग वास्तविकता

नेटवर्क मार्केटिंग शब्द आज हर व्यक्ति के जीवन को छू ही लेता है। साधारणतः नेटवर्क मार्केटिंग (Network Marketing)/ मल्टीलेबल मार्केटिंग (Multi-Level Marketing)/ डारेक्ट सेलिंग (Direct Selling) कंपनियों को नकारात्मक दृष्टि से देखा जाता है। हर तीसरा व्यक्ति इस शब्द को सुनते ही अपनी आँख और कान बंद कर देता है। कहने का अर्थ है कि लोग इस इंडस्ट्रीज को जितनी घृणा की दृष्टि से देखते हैं उतनी ही तेजी से ये इंडस्ट्री लोगों के बीच खड़ी भी हो जाती है। नेटवर्क मार्केटिंग (Network Marketing) कोई उत्पाद बेचने या सेल करने की कोई संस्था नही होती है हां ये ज्यादातर लोगों के मन और मस्तिष्क में बेचने खरीदने या लोगों को जोड़ने के रूप में ही प्रचलित है। इसका मुख्य कारण नेटवर्क मार्केटिंग को गलत रूप में प्रस्तुत किया गया या उनका यही रूप लोगों को दिखाया गया है जिससे आज हर मन एवं मस्तिष्क में यह शब्द सबसे पहले उभर पड़ता है जबकि सच्चाई अलग है। रोजमर्रा के जीवन मे कहीं न कहीं हम नेटवर्किंग ही करते हैं मगर उस का मुख्य रुप से कोई फाइनेंशियल फायदा नही होता है। लेकिन यह भी सच है कि नेटवर्किंग, मल्टीलेबल मार्केटिंग या डारेक्ट सेलिंग के स्वरूप का किसी उत्पाद या सर्विस को खरीदने एवं बेचने से कोई लेना देना नही है अर्थात नेटवर्क का वास्तविक स्वरूप किसी उत्पाद को बेचना नही है। 





नोट:- नेटवर्क मार्केटिंग की वास्तविकता के लिए आप यहाँ पल क्लिक कर सकते हैं इससे नेटवर्क मार्केट की बेहतरीन जानकारी मिलेगी।

Digital Visiting Card डिजिटल बिजनेस कार्ड

समय के बदलाव बहुत ही जरूरी है, अन्यथा समय की रफ्तार अपने लहरों से हमें उस ओर धकेल देती हैं जहाँ से हम दूसरों पर निर्भर रहना ही मुनासिव समझते...